Humsafar हमसफर Song Lyrics | Pamela Jain | Latest Hindi Song 2020


Humsafar हमसफर Song Lyrics | Pamela Jain | Latest Hindi Song 2020

Humsafar is a Latest Hindi Song sung by Pamela Jain. Lyrics of Humsafar Song is given by Yash Eshwari. Music is given by Shourya Ghatak.

Song details:

Song: Humsafar
Singer: Pamela Jain
Music: Shourya Ghatak 
Lyrics: Yash Eshwari








Humsafar Song Lyrics

Na jaane kaun si
Dua ka hua asar
Mila safar mein tu
Banke mujhe humsafar

Na jaane kaun si
Dua ka hua asar
Mila safar mein tu
Banke mujhe humsafar

Ab tujse hi tu hai
Jeene ki har wajah
Bin tumhare hoon main ek sifar

Na jaane kaun si
Dua ka hua asar
Mila safar mein tu
Banke mujhe humsafar

Manzur nahi pal ki bhi doori
Meri saason ko dhadkan ko tu zaruri
Manzur nahi pal ki bhi doori
Meri saason ko dhadkan ko tu zaruri

Meri raaton ke andherom ko de chandini
Mere har savere mein tujhse hi roshni
Waqt mera ab hai tu
Har pal mein tu hi tu
Tujse mere charon pehar

Na jaane kaun si
Dua ka hua asar
Mila safar mein tu
Banke mujhe humsafar

Hathon ki mere lakeerein hai tu
Khaab mera tu hi tabeerein bhi tu
Hathon ki mere lakeerein hai tu
Khaab mera tu hi tabeerein bhi tu

Main ladkhadaun to sahaara tu hai
Agar mar ke jee paaun dubara tu hi hai
Tu hi humraaz hai
Mera sur aur saaz hai
Tujse hi sargam ki lehar

Na jaane kaun si
Dua ka hua asar
Mila safar mein tu
Banke mujhe humsafar









 हमसफर Hindi Lyrics

ना जाने कौन सी दुआ का हुआ असर 
मिला सफ़र में तू बनके मुझे हमसफ़र 

ना जाने कौन सी दुआ का हुआ असर 
मिला सफ़र में तू बनके मुझे हमसफ़र 

अब तुझसे ही तो है जीने की हर वजह 
बिन तुम्हारे हूँ मैं इक सिफ़र 

ना जाने कौन सी दुआ का हुआ असर 
मिला सफ़र में तू बनके मुझे हमसफ़र 

मंज़ूर नहीं पलकें भी तू दे 
मेरी साँसों को धड़कन को तू ज़रूरी 

मंज़ूर नहीं पलकें भी तू दे 
मेरी साँसों को धड़कन को तू ज़रूरी 

मेरी रातों के अंधेरे को दे चाँदनी 
मेरे हर सवेरे में तुझसे ही रोशनी 
वक़्त मेरा अब है तू 
हर पल में अब तू ही तू 
तुझसे मेरे चारों पहर 

ना जाने कौन सी दुआ का हुआ असर 
मिला सफ़र में तू बनके मुझे हमसफ़र 

हाथों की मेरे लकीरें है तू 
ख्वाब मेरा तू ही ताबीरें भी तू 

हो हाथों की मेरे लकीरें है तू 
ख्वाब मेरा तू ही ताबीरें भी तू 

मैं लड़खड़ाऊँ तो सहारा तू है 
गर मर के जीपावु दुबारा तू ही है 
तू ही हुमराज़ है मेरा सुर और साज़ है 
तुझसे ही सरगम की लहर 

ना जाने कौन सी दुआ का हुआ असर 
मिला सफ़र में तू बनके मुझे हमसफ़र

मिला सफ़र में तू बनके मुझे हमसफ़र