माता शैलपुत्री की आरती मंत्र - mata Shailputri ki aarti lyrics 


माता शैलपुत्री की आरती मंत्र - mata Shailputri aarti lyrics




नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है । माता शैलपुत्री माता दुर्गा की एक रूप है । माता शैलपुत्री की आरती हिंदी में ।

नवरात्रि के पहले दिन की आपको शुभकामनाएं । चलिए मां शैलपुत्री की आरती की ओर बढ़ते हैं ।

mata Shailputri ki aarti lyrics 




शैलपुत्री मां बैल पर सवार, करें देवता जय जयकार। 

शिव शंकर की प्रिय भवानी, तेरी महिमा किसी ने ना जानी।।



पार्वती तू उमा कहलावे, जो तुझे सिमरे सो सुख पावे। 

ऋद्धि-सिद्धि परवान करे तू, दया करे धनवान करे तू।।



सोमवार को शिव संग प्यारी, आरती तेरी जिसने उतारी। 

उसकी सगरी आस पुजा दो, दुख तकलीफ मिला दो।।



घी का सुंदर दीप जला के, गोला गरी का भोग लगा के। 

श्रद्धा भाव से मंत्र गाएं, प्रेम सहित फिर शीश झुकाएं।।


जय गिरिराज किशोरी अंबे, शिव मुख चंद्र चकोरी अंबे। 

मनोकामना पूर्ण कर दो, भक्त सदा सुख संपत्ति भर दो।।